ऑनलाइन बैठक

मेन्‍यू

अगला

सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन "इंसान को अपनी आस्था में, वास्तविकता पर ध्यान देना चाहिए, धार्मिक रीति-रिवाजों में लिप्त रहना आस्था नहीं है"

579 15/01/2021

उत्तर यहाँ दें