ऑनलाइन बैठक

मेन्‍यू

अगला

परमेश्वर के दैनिक वचन | "स्वर्गिक परमपिता की इच्छा के प्रति आज्ञाकारिता ही मसीह का सार है" | अंश 105

0 07/09/2021

उत्तर यहाँ दें