ऑनलाइन बैठक

मेन्‍यू

अगला

शैतान की मांद से बच निकलना | God Is My Salvation

667,936 24/03/2019

उनका नाम झांग हुई है और वे सर्वशक्तिमान परमेश्‍वर की कलीसिया से जुड़ी एक ईसाई हैं। परमेश्वर में विश्वास करने के बाद से ही चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने गुप्‍त निगरानी कर उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उन्‍हें कलीसिया के अगुवाओं और उनके पैसे के बारे में मुखबिरी करने के लिए दबाव डाला। उन्‍होंने उनके पारिवारिक संबंधों को एक हथियार के रूप में भावनात्‍मक रूप से उन पर अत्‍याचार करने के लिए इस्तेमाल किया। उन्‍होंने उनकी घेराबंदी कर उनके संकल्‍प को तोड़ने के लिये पंद्रह दिनों तक सोने नहीं दिया। उन्‍होंने चीनी कम्‍युनिस्‍ट सरकार की पुलिस का अनवरत कष्‍ट झेला। वे निरंतर एक अत्‍याधिक तनाव और भय की स्थिति में रहीं। इस खतरनाक माहौल में वे बार-बार परमेश्‍वर से प्रार्थना और यह विनती करती रहीं कि परमेश्‍वर उनकी रक्षा करें ताकि वे मजबूत रहकर गवाही दे सकें। सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन के मार्गदर्शन और नेतृत्‍व में, उन्‍होंने पुलिस की कुटिल चालों को समझा और उनकी बार-बार दी जाने वाली यातना सही। अंत में, सर्वशक्तिमान परमेश्‍वर के संरक्षण में, वे शैतान की मांद के बीच से चमत्‍कारिक रूप से बच कर भागने में सफल हो सकीं। चीन की कम्‍युनिस्‍ट पार्टी की सरकार के उत्‍पीड़न का अनुभव करने के बाद, उन्‍होंने साफ तौर पर जान लिया कि वे दुष्‍ट दानव हैं और वे सत्‍य से घृणा करते हैं। उनका सार परमेश्‍वर के एक प्रतिकियावादी दुष्‍ट शत्रु होने का है। उन्‍होंने पहली बार हर चीज़ पर परमेश्‍वर के प्रभुत्‍व और उनके अद्भुत कर्मों को देखा। उन्‍होंने परमेश्‍वर की देख-भाल और प्रेम को हर संभव तरीके से अनुभव किया। उन्‍होंने परमेश्‍वर की रचना के रूप में परमेश्‍वर की कृपा को सार्थक करने के लिए अपना पूरा जीवन परमेश्‍वर को सौंपने और अपने कर्तव्‍यों को पूरा करने संकल्‍प लिया!

उत्तर यहाँ दें