ऑनलाइन बैठक

मेन्‍यू

अगला

Hindi Christian Movie | धन्‍य हैं वे, जो मन के दीन हैं | Have You Welcomed the Return of Lord Jesus?

11,912 03/04/2020

शो योंघान दक्षिण कोरिया में एक कलीसिया के पादरी हैं। उन्होंने दशकों तक उत्साहपूर्वक परमेश्वर की सेवा की और अपने साथी विश्वासियों का गहरा सम्मान अर्जित किया। हाल के वर्षों से, उनकी कलीसिया दिन-प्रतिदिन ज्‍़यादा-से-ज्‍यादा उजाड़ होती जा रही है। बुरे कर्म अधिक-से-अधिक सामान्‍य हो रहे थे, और वे खुद भी अपने आप को इन पापों में फंसा पाते थे। परिणामस्वरूप, वे बेहद दुखी भ्रमित महसूस करते थे। ... बहुत विचार करने के बाद, उन्होंने संकल्‍पपूर्वक कलीसिया का अपना पद और अपना संप्रदाय छोड़ दिया और इस उम्‍मीद में ऐसी कलीसिया की खोज की जहां पवित्र आत्मा का कार्य हो, ताकि वे अपने पापों से मुक्‍त होने का अपना मार्ग प्राप्त कर सकें। उन्होंने कई पंथों का दौरा किया, लेकिन उनके उजाड़पन, भ्रष्टता ने उन्हें और अधिक हारा हुआ, भ्रमित, और असहाय बना दिया। उन्‍होंने प्रभु से गिड़गिड़ा कर याचना करी "प्रभु आप कहां हैं"। जब शो योंघान ने अंत के दिनों के सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कार्य्र को देखना शुरू किया, तो वह यह जानकर उन्‍हें सुखद आश्चर्य हुआ कि सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचन अधिकार, शक्ति और सत्य से भरे हुए हुए हैं! कलीसिया के गवाहों की संगति और गवाही सुनने के बाद, शो योंघान को सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों से समझ में आया कि क्योंकि वे प्रभु यीशु के एक विश्वासी है, इस लिए उनके पापों को क्षमा कर दिया गया है और परमेश्वर के अनुग्रह से उन्हें बचा लिया गया है, जिसका अर्थ है कि परमेश्वर दोबारा कभी भी उन्हें एक पापी के रूप में कलंकित नहीं करेंगे, और वे परमेश्वर के सामने आने उनकी आराधना करने और परमेश्वर के अनुग्रह और आशीर्वाद का आनंद लेने के हकदार हैं। हालांकि, उनकी गहरी अंतर्निहित पापी प्रकृति के कारण, वे अभी भी पाप से बंधे और नियंत्रित है, और पवित्र नहीं बन सकते हैं। केवल अंत के दिनों के सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों के न्याय और ताड़ना को स्‍वीकार करके ही वे धीरी-धीरे पाप से मुक्‍त होकर, वास्‍तव में शुद्धिकरण और उद्धार पा सकेंगे, और परमेश्वर द्वारा उनके राज्य में ले जाए जा सकते हैं। इस समय, शो योंघान उत्साह से भर गए और उन्होंने खुशी-खुशी अंत के दिनों के सर्वशक्तिमान परमेश्वर के कार्यों को स्वीकार कर लिया और परमेश्वर के सिंहासन के सामने खड़े होने के लिए वापस लौट गए।

उत्तर यहाँ दें