ऑनलाइन बैठक

मेन्‍यू

आज का वचन बाइबल से

भजन संहिता 46:1 का विवरण—परमेश्वर हमारा शरणस्थान और बल हैं

जैसे की आपदाएँ बारंबार होती हैं, हम शरणस्थान में कैसे प्रवेश कर सकते हैं? 2,000 साल पहले, प्रभु यीशु ने भविष्यवाणी की थी कि अंत के दिनों में सभी प्रकार की विनाशकारी आपदाएँ होंगी: "क्योंकि उस सम...

बाइबल से मूसा की कहानी: कठिनाइयाँ आने पर परमेश्वर में सच्चा विश्वास कैसे करें?

"तब मूसा ने अपना हाथ समुद्र के ऊपर बढ़ाया; और यहोवा ने रात भर प्रचण्ड पुरवाई चलाई, और समुद्र को दो भाग करके जल ऐसा हटा दिया, जिससे कि उसके बीच सूखी भूमि हो गई"। (निर्गमन 14:21) यह पद...

भजन संहिता 50:15 - मुश्किलों में परमेश्वर को पुकारना याद रखें

"और संकट के दिन मुझे पुकार; मैं तुझे छुड़ाऊँगा, और तू मेरी महिमा करने पाएगा।" (भजन संहिता 50:15) आपदाओं के दौरान, केवल यदि हम प्रभु के नए नाम को पुकारते हैं, तभी हमें सुरक्षित र...

जकर्याह 13:8 चिंतन: आप तीसरे में से एक कैसे हो सकते हैं जो बचे रहेंगे?

यहोवा की यह भी वाणी है, कि इस देश के सारे निवासियों की दो तिहाई मार डाली जाएँगी और बची हुई तिहाई उसमें बनी रहेगी। (जकर्याह 13:8) "यहोवा की यह भी वाणी है, कि इस देश के सारे निवासियों की द...

प्रकाशितवाक्य 6:1-8 में भविष्यवाणी: क्या सर्वनाश के चार घुड़सवार आ गए हैं?

"फिर मैं ने देखा कि मेम्ने ने उन सात मुहरों में से एक को खोला; और उन चारों प्राणियों में से एक का गर्जन का सा शब्द सुना, 'आ!' मैं ने दृष्‍टि की, और देखो, एक श्‍वेत घोड़ा है, और उसका सवार धनुष लिये...