ऑनलाइन बैठक

मेन्‍यू

अगला

Hindi Christian Testimony Movie | पीड़ा के बीच आनंद पाना

53,937 26/10/2020

झॉन्ग शिन्मिंग कलीसिया में एक अगुआ है, जो अपने कर्तव्य के लिए कष्ट सहन कर पाती है, वह ईमानदार और ज़िम्मेदार भी है। हालांकि उसे पीठ दर्द की समस्या है, फिर भी वह दर्द के बावजूद अपना कर्तव्य निभाती रहती है। मगर, उसकी हालत बिगड़ने लगती है, अस्पताल में जांच से पता चलता है कि उसकी रीढ़ की हड्डी वाले सेगमेंट 4 और 5 के बीच एक हर्निया वाला लंबर डिस्क है। अगर उसने तुरंत इलाज नहीं करवाया, तो वह बिस्तर पकड़ लेगी। उसे इस वजह से थोड़ी फ़िक्र हो जाती है, लेकिन उसका विश्वास है कि उसकी यह हालत परमेश्वर की अनुमति से हुई है, और परमेश्वर उसका इम्तहान ले रहा है, उसकी आस्था और समर्पण की परीक्षा ले रहा है। उसे यकीन है कि अगर वह इलाज के साथ सहयोग करे और अपना कर्तव्य निभाती रहे, तो परमेश्वर अवश्य उसकी रक्षा करेगा। लेकिन समय के साथ उसकी हालत और बिगड़ती जाती है और उसे किसी भी वक्त लकवा मारने का खतरा पैदा हो जाता है। इस बीमारी के परीक्षण से वह कैसे उबर पाती है? अंत में वह कैसे आनंद ले पाती है? जानने के लिए देखें पीड़ा के बीच आनंद पाना।

उत्तर यहाँ दें