ऑनलाइन बैठक

मेन्‍यू

अगला

2020 Hindi Christian Testimony Video | मैंने खोली गई पुस्तक को देखा है

2,137 08/12/2020

मुख्य किरदार एक समर्पित ईसाई है जिसे बाइबल की अच्छी-खासी समझ है। वह अक्सर अपने पादरी को यह कहते सुनता है कि परमेश्वर के सभी वचन बाइबल में मौजूद हैं और बाइबल के बाहर परमेश्वर का कोई वचन मौजूद नहीं है। जब उसे पता चलता है कि प्रभु लौट आया है और उसने नए वचन बोले हैं, तो वह अपनी धारणाओं से चिपके रहकर इसकी खोज या छानबीन नहीं करना चाहता। लेकिन जल्द ही, उसे एहसास होता है कि उसके दोस्त और परिवार के सदस्यों ने, सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अंत के दिनों के कार्य की छानबीन करके और सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों को पढ़कर, बहुत से सत्यों को समझा है। इस बात से ईर्ष्या करते हुए, वह खुद इस पर ध्यान देने का फ़ैसला लेता है। सर्वशक्तिमान परमेश्वर के बहुत से वचनों को पढ़ने पर, उसे विश्वास होता है कि ये वही सूचीपत्र है जिसकी भविष्यवाणी प्रकाशित-वाक्य की पुस्तक में की गयी है, ये कलीसिया से कहे गए पवित्र आत्मा के वचन हैं। उसे यह भी एहसास होता है कि बाइबल में परमेश्वर के वचनों का सिर्फ़ एक छोटा-सा हिस्सा ही मौजूद है और लोगों को परमेश्वर के कार्य और वचनों को सिर्फ़ बाइबल तक ही सीमित नहीं रखना चाहिए। फिर इस बात को लेकर उसके सभी शक दूर हो जाते हैं कि सर्वशक्तिमान परमेश्वर ही लौटकर आया प्रभु यीशु है और वह सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अंत के दिनों के कार्य को स्वीकार कर लेता है।

उत्तर यहाँ दें