ऑनलाइन बैठक

मेन्‍यू

अगला

Hindi Christian Movie | "गहरी सर्दी में"

272,158 24/03/2019

उसका नाम जिआओ ली है। उसने एक दशक से भी अधिक समय तक परमेश्वर पर विश्वास किया है। 2012 की सर्दी में, उसे एक सभा में चीनी कम्युनिस्ट पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। पूछताछ के दौरान, पुलिस ने कलीसिया के नेताओं के ठिकानों और पैसों के बारे में खुलासा करते हुए, परमेश्वर को धोखा देने के लिए उसे लुभाने के प्रयासों में बार-बार बहलाने, धमकी देने, यातना देने और तोड़ने की कोशिश की। विशेष रूप से एक बर्फीली रात में, जब तापमान शून्य से भी बीस डिग्री नीचे था, उसे कपड़े उतारकर जबरदस्ती नग्न कर दिया, बर्फीले पानी से भिगोया, उसके जनानागों में बिजली के झटके दिए, और पुलिस ने जबरदस्ती उसकी नाक में सरसों का पानी डाला.... उसे अमानवीय यातना और अकल्पनीय अपमान का सामना करना पड़ा। पूछताछ के दौरान, वह आहत हुई और उसका तिरस्कार हुआ। उसने बेतहाशा परमेश्वर से समय-समय पर प्रार्थना की। परमेश्वर के वचन ने समय-समय पर उसको प्रबुद्धता और मार्गदर्शन दिया। परमेश्वर के वचन से प्राप्त विश्वास और शक्ति से, उसने बर्बर यातना और राक्षसी अत्याचार पर विजय प्राप्त की और जबरदस्त तरीके से शानदार गवाही दी। सर्दियों में खिले फूल की तरह, वह गंभीर प्रतिकूल परिस्थितियों में भी गर्व से रमणीय सुगंध बिखेरते हुए एक लचीली जीवन शक्ति का प्रदर्शन करती है ...

उत्तर यहाँ दें