ऑनलाइन बैठक

मेन्‍यू

बाइबल के प्रश्नों के उत्तर

अंत के दिनों की भविष्यवाणियां पूरी हो चुकी हैं: यीशु मसीह के आगमन का स्वागत कैसे करें

दो हज़ार साल पहले, प्रभु के अनुयायियों ने यीशु से पूछा, "तेरे आने का और जगत के अन्त का क्या चिह्न होगा?" (मत्ती 24:3)। प्रभु यीशु ने जवाब दिया, "तुम लड़ाइयों और लड़ाइयों की चर्चा सुनोगे, तो घबरा न जाना...

बुद्धिमान कुँवारियों को प्रभु यीशु की वापसी का स्वागत कैसे करना चाहिए?

प्रभु में हर सच्चा विश्वास करने वाला प्रभु की वापसी का स्वागत करने की उम्मीद करता है,इसलिए यह जानना महत्वपूर्ण है कि बुद्धिमान कुंवारियां प्रभु यीशु मसीह का स्वागत क्यों कर सकती हैं?अधिक जानने के लिए यह लेख पढ़ें।

ईसाईयों को कैसे परमेश्वर से वास्तविकता से पच्छाताप करना चाहिए इन बार-बार होने वाली आपदाओं के दौरान?

इस लेख को पढ़िए, जानने के लिए कि सच्चा पश्चाताप क्या है और कैसे परमेश्वर से सच्चा पश्चाताप करे ताकी उसके उद्धार को हासिल कर सके और स्वर्गीय राज्य में प्रवेश कर सके|

बाइबल संदेश: जैसा कि विपदाएँ हो रही हैं, हम किस तरह बुद्धिमान कुंवारी हो सकते हैं और प्रभु का स्वागत करें?

आपदाएँ अधिक से अधिक होती जा रही हैं। परमेश्वर की वापसी की भविष्यवाणियां मूल रूप से पूरी हुई हैं। हम उसका स्वागत कैसे कर सकते हैं? अब रास्ता खोजने के लिए पढ़ें।

स्वर्ग का राज्य बहुत निकट है; हम सच्चा पश्चाताप कैसे प्राप्त कर सकते हैं?

हाल ही के वर्षों में, आपदाएँ ज्यादा से ज्यादा भयंकर हो रही हैं, जैसे कि भूकंप, महामारियाँ, आगजनी, बाढ़ इत्यादि। कई लोगों ने महसूस किया है कि लगातार आने वाली आपदाएँ प्रभु के लौटने के संकेत हैं, और प्रभु...

क्यों हम पाप की स्वीकार के लिए प्रार्थना के बावजूद हमारे पापों के मुद्दे को हल नहीं कर सकते हैं?

हम परमेश्वर में विश्वास करते हैं और अक्सर स्वीकार की प्रार्थना करते हैं। हम अब भी पाप क्यों करते हैं? हम पाप से कैसे बच सकते हैं, शुद्ध हो सकते हैं और स्वर्गीय राज्य में प्रवेश कर सकते हैं? उत्तर जानने के लिए यह लेख पढ़ें।

इस तरह यीशु मसीह की भविष्यवाणी "मैं चोर के समान आता हूँ" पूरी होती है

यीशु मसीह की भविष्यवाणी एक चोर के रूप में कैसे पूरी होती है? यह लेख आपको प्रभु की वापसी का मार्ग दिखाएगा।

प्रभु यीशु जब भी प्रार्थना करते थे तो वह परमेश्वर को स्वर्गीय पिता कहकर क्यों बुलाते थे?

अगर प्रभु यीशु स्वयं परमेश्वर हैं, तो ऐसा क्यों है कि जब प्रभु यीशु प्रार्थना करते हैं, तो वे परमपिता परमेश्वर से प्रार्थना करते हैं। इस लेख को पढ़ें और उसके पीछे के रहस्य को समझे।

बाइबिल के अनुसार, दुनिया के अंत के संकेत दिखाई दिए हैं। हम प्रभु का स्वागत कैसे कर सकते हैं?

बार-बार होने वाली आपदाओं से पता चलता है कि दुनिया के अंत के संकेत दिखाई दिए हैं। महान क्लेश से पहले हम प्रभु का स्वागत कैसे कर सकते हैं? उत्तर खोजने के लिए पढ़ें।

यीशु मसीह आखिरी दिनों में कहाँ लौटेंगे?

क्या मत्ती 24:27 का अर्थ वह स्थान है जहाँ मनुष्य का पुत्र पूर्व में आता है? ईसा मसीह अंतिम दिनों में कहाँ लौटेंगे? रहस्य खोजने के लिए पढ़ें।

"आपदाओं के पहले उठा लिया जाना", इसका क्या अर्थ है? "आपदाओं के पहले विजेता बनाया जाना", इसका क्या अर्थ है?

जय मसीह की! भाइयों और बहनों, अब हम अंत के दिनों के अंतिम चरण में हैं, मैंने समाचार में देखा है कि सभी प्रकार की आपदाएँ बढ़ रही हैं और इनका परिमाण भी बढ़ रहा है। मेरे लिए मुख्य मुद्दे ये हैं कि मैं आ...

सत्‍य क्या है और क्या धर्मशास्त्रीय ज्ञान सत्य है

परमेश्वर के प्रासंगिक वचन: परमेश्वर स्वयं ही जीवन है, और सत्य है, और उसका जीवन और सत्य साथ-साथ विद्यमान हैं। वे लोग जो सत्य प्राप्त करने में असमर्थ हैं कभी भी जीवन प्राप्त नहीं करेंगे। मार्गदर्शन, ...

यीशु मसीह के "पूरा हुआ" कहने का असल अर्थ क्या है?

क्या यीशु मसीह का "पूरा हुआ" कहने का वास्तव में यह मतलब था कि परमेश्वर का काम पूर्णत: समाप्त हो गया था? पूरा हुआ का सही अर्थ जानने के लिए पड़े।

क्या आप जानते हैं कि प्रभु यीशु के पुनरुत्थान और मनुष्य के सामने उसके प्रकटन का क्या अर्थ है?

ईस्टर क्या है? ईस्टर का उद्भव ईस्टर, या जैसा कि इसे पुनरुत्थान रविवार भी कहा जाता है, एक अवकाश-दिवस है जब प्रभु यीशु के पुनरुत्थान का जश्न मनाया जाता है जो उनके क्रूस पर चढ़ाये जाने के तीन दिन बाद हु...

अंत के दिनों में प्रभु किस प्रकार वापस लौटेंगे?

संपादक की टिप्पणी जब अंत के दिनों में प्रभु यीशु के लौटने के तरीके की बात आती है, तो अधिकांश प्रभु के विश्वासी भाई-बहनों का मानना है कि प्रभु यीशु खुले तौर पर एक सफेद बादल पर सवार होकर हमारे सामने ...

विश्वास का अर्थ क्या है और विश्वास किस तरह परमेश्वर द्वारा अनुमोदित किया जा सकता है?

विश्वास का अर्थ जानने के लिए इस लेख को पढ़ें और समझें कि परमेश्वर में सच्चा विश्वास रखने का क्या अर्थ है और हमारा विश्वास उसकी स्वीकृति कैसे प्राप्त कर सकता है।

परमेश्वर की इच्छा का अनुसरण करना क्या है और परमेश्वर की इच्छा का अनुसरण करने वालों की अभिव्यक्तियाँ कैसी होती हैं

प्रभु यीशु ने कहा कि जो लोग परमेश्वर की इच्छा का पालन करते हैं वे स्वर्ग के राज्य में प्रवेश कर सकते हैं। तो परमेश्वर की इच्छा का पालन करने वाला व्यक्ति क्या है? और जानने के लिए पढ़ें।

प्रभु यीशु ने स्वर्ग राज्य की चाबियाँ पेत्रुस को क्यों दीं

बाइबल पढ़कर चकराना जब मैं सुबह जल्दी उठ गयी, तो मैंने प्रार्थना की, फिर बाइबल में मत्ती 16:19 खोला, जहाँ प्रभु यीशु पतरस से कहते हैं: "मैं तुझे स्वर्ग के राज्य की कुंजियाँ दूँगा: और जो कुछ तू पृथ्वी...