ऑनलाइन बैठक

मेन्‍यू

बाइबिल भविष्यवाणी की अंतिम घटनाओं: 26 मई को भव्य रक्त चंद्रमा दिखाई देगा

त्वरित नेविगेशन मेन्यू
अंतिम दिनों का संकेत: 26 मई को भव्य रक्त चन्द्रमा देखा जाएगा
बाईबल कि इन भविष्यवाणियों के पूरे होने पर, यहोवा का महान और बायनक दिन आ रहा है।
प्रभु की वापसी का स्वागत कैसे करे और आपदाओं से संरक्षित हों।

अंतिम दिनों का संकेत: 26 मई को भव्य रक्त चन्द्रमा देखा जाएगा

बाइबिल भविष्यवाणी की अंतिम घटनाओं: 26 मई को भव्य रक्त चंद्रमा दिखाई देगा

हाल के वर्षों में रक्त चंद्रमाओं की लगातार घटना ने कई बाइबिल विद्वानों का ध्यान आकर्षित किया है। ऐसा इसलिए है क्योंकि प्रकाशितवाक्य की पुस्तक में वर्णित रक्त चंद्रमा परमेश्वर के न्याय के दिन का संकेत देता है और प्रमुख घटनाओं को चित्रित करता है। कई देशों के मौसम विज्ञान और खगोलविदों के बयानों के अनुसार, 26 मई को इस साल का सबसे बड़ा रक्त चंद्रमा दिखाई देगा। तब आकाश में एक दुर्लभ खगोलीय घटना दिखाई देगी: लाल रंग के साथ एक भव्य रक्त चंद्रमा ग्रहण के दौरान होगा, जो एक पूर्णिमा की तुलना में बड़ा और चमकीला दिखाई देगा। दुनिया भर में रक्त चन्द्रमाओं के रिकॉर्ड हैं, और रक्त चन्द्रमाओं को अक्सर आपदाओं या असामान्य घटनाओं के अग्रदूत माना जाता है।

इतिहास की ओर मुड़कर देखें, तो हमें आश्चर्य होगा कि रक्त चन्द्रमाओं की उपस्थिति के बाद बहुत घटनाएं हुईं है।

एक रक्त चंद्रमा, 9 नवंबर, 2003 को कुल चंद्र ग्रहण हुआ था। और उस साल SARS ने हांगकांग में प्रवेश किया था।

15 अप्रैल 2014 को, कुल चंद्र ग्रहण (रक्त चंद्रमा) था जो एक श्रृंखला में लगातार चार कुल ग्रहणों में से एक था, एक दुर्लभ खगोलीय घटना जो कि पिछले 500 वर्षों में केवल चार बार हुई थी। 16 वें पर, दक्षिण कोरिया में एक नौका डूब गई, जिससे 300 से अधिक लोग मारे गए।

29 मार्च 2021 को, ताइपे में कई लोगों ने रात के आसमान में एक रक्त चंद्रमा देखा। तीन दिन बाद, 2 अप्रैल को, ताइवान रेलवे प्रशासन द्वारा संचालित एक टैरो एक्सप्रेस ट्रेन पटरी से उतर गई, जिससे गंभीर मौत हो गई और चोट आई, जिसने अंतरराष्ट्रीय राय को झटका दिया।

बहुत से लोग मदद नहीं कर सकते, लेकिन चिंता करते हैं: बड़ी घटनाएं हर बार एक रक्त चंद्रमा के आगमन के बाद होती है। फिर इस बार क्या होगा? इस बीच, वे भविष्य में हमारी मानव जाति के भाग्य के बारे में चिंतित हैं। ईसाई के रूप में, फिर, हमें इस रक्त चंद्रमा की उपस्थिति को कैसे देखना चाहिए?

बाईबल कि इन भविष्यवाणियों के पूरे होने पर, यहोवा का महान और बायनक दिन आ रहा है।

हम सभी जानते है कि बाईबल में लाल रक्त चंद्रमा के बारे में बहुत सारी आयतें है। योएल 2:29-31 में भविष्यवाणी की गई है, "तुम्हारे दास और दासियों पर भी मैं उन दिनों में अपना आत्मा उण्डेलूँगा। और मैं आकाश में और पृथ्वी पर चमत्कार, अर्थात् लहू और आग और धुएँ के खम्भे दिखाऊँगा यहोवा के उस बड़े और भयानक दिन के आने से पहले सूर्य अंधियारा होगा और चन्द्रमा रक्त सा हो जाएगा।" और प्रकाशितवाक्य 6:12, "जब उसने छठवीं मुहर खोली, तो मैंने देखा कि एक बड़ा भूकम्प हुआ; और सूर्य कम्बल के समान काला, और पूरा चन्द्रमा लहू के समान हो गया।" हाल के सालों में, लाल रक्त चंदरमा बहुत बार प्रकट हुआ है, चार रक्त चंद्रमाओं की श्रृंखला 2014 और 2015 में प्रकट हुई, 2018 में महान पूर्णिमा का दूसरा लाल रक्त चंदरमा, और वह भी 152 वर्षों पहले हुआ था, और 21जनवरी 2019 में सुपर ब्लड वूल्फ मून दिखाई दिया। बहुत से देखने वालो ने यह विश्वास किया कि महान लाल रक्त चंद्रमा का दिखाई देना बाईबल की भविष्यवाणियों का पूरा होना है, और कि यहोवा का महान और भयानक दिन निकट है। आज के दिनों में विभिन्न देशों में, युद्ध और आपदाएं जैसे कि भूकंप, अकाल, बाढ़ और महामारियां निरंतर आरही है। दुनिया की सतिथी निरंतर ब्दतर हो रही है, और माहौल निरंतर गर्म हो रहा है। खासतौर से, यह अप्रत्याशित कोविड-19, 2020 तक पूरी दुनिया को निगले जा रहा है। यह कहा जा सकता है की महान आपदाएं इंसान के बहुत करीब है। प्रभु यीशु मसीह ने बहुत पहले कहा था, "तुम लड़ाइयों और लड़ाइयों की चर्चा सुनोगे; देखो घबरा न जाना क्योंकि इनका होना अवश्य है, परन्तु उस समय अन्त न होगा। क्योंकि जाति पर जाति, और राज्य पर राज्य चढ़ाई करेगा, और जगह-जगह अकाल पड़ेंगे, और भूकम्प होंगे। ये सब बातें पीड़ाओं का आरम्भ होंगी" (मत्ती 24:6-8)। इन चिन्हों का प्रकटन काफी है इस बात को साबित करने के लिए कि बाईबल की भविष्यवाणी पहले ही पूरी हो चुकी है और प्रभु कि वापसी का दिन आ पहुंचा है।

सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते है, "अपनी आँखें खोलो और देखो, और तुम हर जगह मेरे महान सामर्थ्य को देख सकते हो! तुम हर जगह मेरे बारे में निश्चित हो सकते हो। ब्रह्मांड और गगन-मंडल मेरे महान सामर्थ्य को फैला रहे हैं। मैंने जो वचन बोले हैं, वे मौसम के गर्म होने, जलवायु-परिवर्तन, लोगों के भीतर की विसंगतियों, सामाजिक गतिशीलता के विकार और लोगों के हृदयों के भीतर के छल में सच हो गए हैं। सूरज सफेद हो जाता है और चंद्रमा लाल हो जाता है; यह सब संतुलन से बाहर है। क्या तुम लोग सचमुच अभी भी इन्हें नहीं देखते?" "एक के बाद एक सभी तरह की आपदाएँ आ पड़ेंगी; सभी राष्ट्र और स्थान आपदाओं का सामना करेंगे : हर जगह महामारी, अकाल, बाढ़, सूखा और भूकंप आएँगे। ये आपदाएँ सिर्फ एक-दो जगहों पर ही नहीं आएँगी, न ही वे एक-दो दिनों में समाप्त होंगी, बल्कि इसके बजाय वे बड़े से बड़े क्षेत्र तक फैल जाएँगी, और अधिकाधिक गंभीर होती जाएँगी। इस दौरान, एक के बाद एक सभी प्रकार की कीट-जनित महामारियाँ उत्पन्न होंगी, और हर जगह नरभक्षण की घटनाएँ होंगी। सभी राष्ट्रों और लोगों पर यह मेरा न्याय है।" परमेश्वर के इन वचनों से हम देख सकते है कि विभिन्न प्रकार कि आपदाओं का आना अंत के दिनों का संकेत है जैसे कि बाईबल में भविष्यवाणी कि गई है और यह दृढ़ता से साबित करता है कि प्रभु यीशु मसीह लोट आए है। और एक तरफ से आपदाओं का आना हमें स्मरण करता है कि प्रभु पहले ही लोट आए है, और दूसरी ओर, यह परमेश्वर का इस दुष्ट संसार को दंडित करना है। इस महत्वपूर्ण समय में हमें प्रभु के आगमन कों किस तरह से ग्रहण करना चाहिए?

क्या आप प्रभु की वापसी का स्वागत करना चाहते हैं और इस दुनिया के सबसे भाग्यशाली लोगों में से एक बनना चाहते हैं? मार्ग खोजने के लिए संपर्क करें।

प्रभु की वापसी का स्वागत कैसे करे और आपदाओं से संरक्षित हों।

बाईबल में लिखा है, "देख, मैं द्वार पर खड़ा हुआ खटखटाता हूँ; यदि कोई मेरा शब्द सुनकर द्वार खोलेगा, तो मैं उसके पास भीतर आकर उसके साथ भोजन करूँगा, और वह मेरे साथ" (प्रकाशितवाक्य 3:20)। "जिसके कान हों, वह सुन ले कि पवित्र आत्मा कलीसियाओं से क्या कहता है" (प्रकाशितवाक्य 2:7)। "मेरी भेड़ें मेरा शब्द सुनती हैं, और मैं उन्हें जानता हूँ, और वे मेरे पीछे-पीछे चलती हैं" (यूहन्ना 10:27)। परमेश्वर का स्वागत करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीज है परमेश्वर की आवास पहचानना। अगर हम परमेश्वर की आवाज पहचान सकते हैं लौट कर आए परमेश्वर के वचनों से, तब हम मेमने के नक्शे कदमों का अनुसरण कर पाएंगे और प्रभु की वापसी को प्राप्त करेंगे।

अब अंतिम दिनों का समय है। परमेश्वर पहले से ही देह के रुप में वापस लौट आए हैं! सूचीपत्र और सात मुहरों पुस्तक को खोलने के लिए। और उन्होंने लाखों वचनों व्यक्त किए हैं और सर्वशक्तिमान ईश्वर के नाम के साथ नए काम का एक चरण किया है। पुस्तक, वचन देह में प्रकट होता है, यह राज्य के युग का बाइबल है। इस पुस्तक के भीतर के वचनों परमेश्वर के वर्तमान वचन हैं, जिन्होंने बाइबल में सभी रहस्यों का खुलासा किया है और हमें उन सभी सच्चाईयों को बताया है जिन्हें अब हमें समझने और और उसमें प्रवेश करने की आवश्यकता है। ये वचनों मानव जाति के लिए ऑनलाइन उपलब्ध कराए गए हैं ताकि वे खोज सकें और विचार कर सकें। दुनिया भर के सभी सच्चे विश्वासियों, जिन्होंने परमेश्वर की उपस्थिति के लिए लंबे समय तक परमेश्वर का इंतजार किया था, अब परमेश्वर की आवाज़ सुनी है, लौटे परमेश्वर को मान्यता दी है, और राज्य के भव्य भोज का आनंद लेने के लिए परमेश्वर के सिंहासन के सामने स्वर्गरोहित उत्साहित किया गया है। इसलिए, हमारी तत्काल प्राथमिकता है कि हम परेमश्वर की वापसी का स्वागत करें और परेमश्वर के आतिंम समय का उद्धार प्राप्त करें, केवल ऐसा करने से हमारे पास आपदाओं से परमेश्वर द्वारा संरक्षित होने का मौका होगा।

आइए सर्वशक्तिमान परमेश्वर के वचनों के तीन अंश पढ़ें। यदि आप एक बुद्धिमान कुंवारी हैं, जो परमेश्वर की वापसी के लिए तरसती हैं, तो आप निश्चित रूप से परमेश्वर की आवाज को पहचान पाएंगे।

सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "मैं पूरे ब्रह्मांड में अपना कार्य कर रहा हूँ, और पूरब से असंख्य गर्जनाएं निरंतर गूँज रही हैं, जो सभी राष्ट्रों और संप्रदायों को झकझोर रही हैं। यह मेरी वाणी है जो सभी मनुष्यों को वर्तमान में लाई है। मैं अपनी वाणी से सभी मनुष्यों को जीत लूँगा, उन्हें इस धारा में बहाऊँगा और अपने सामने समर्पण करवाऊँगा, क्योंकि मैंने बहुत पहले पूरी पृथ्वी से अपनी महिमा को वापस लेकर इसे नये सिरे से पूरब में जारी किया है। भला कौन मेरी महिमा को देखने के लिए लालायित नहीं है? कौन बेसब्री से मेरे लौटने का इंतज़ार नहीं कर रहा है? किसे मेरे पुनः प्रकटन की प्यास नहीं है? कौन मेरी सुंदरता को देखने के लिए तरस नहीं रहा है? कौन प्रकाश में नहीं आना चाहता? कौन कनान की समृद्धि को नहीं देखना चाहता? किसे उद्धारकर्ता के लौटने की लालसा नहीं है? कौन महान सर्वशक्तिमान की आराधना नहीं करता है? मेरी वाणी पूरी पृथ्वी पर फैल जाएगी; मैं चाहता हूँ कि अपने चुने हुए लोगों के समक्ष मैं और अधिक वचन बोलूँ। मैं पूरे ब्रह्मांड के लिए और पूरी मानवजाति के लिए अपने वचन बोलता हूँ, उन शक्तिशाली गर्जनाओं की तरह जो पर्वतों और नदियों को हिला देती हैं। इस प्रकार, मेरे मुँह से निकले वचन मनुष्य का खज़ाना बन गए हैं, और सभी मनुष्य मेरे वचनों को सँजोते हैं। बिजली पूरब से चमकते हुए दूर पश्चिम तक जाती है। मेरे वचन ऐसे हैं कि मनुष्य उन्हें छोड़ना बिलकुल पसंद नहीं करता, पर साथ ही उनकी थाह भी नहीं ले पाता, लेकिन फिर भी उनमें और अधिक आनंदित होता है। सभी मनुष्य खुशी और आनंद से भरे होते हैं और मेरे आने की खुशी मनाते हैं, मानो किसी शिशु का जन्म हुआ हो। अपनी वाणी के माध्यम से मैं सभी मनुष्यों को अपने समक्ष ले आऊँगा। उसके बाद, मैं औपचारिक तौर पर मनुष्य जाति में प्रवेश करूँगा ताकि वे मेरी आराधना करने लगें। मुझमें से झलकती महिमा और मेरे मुँह से निकले वचनों से, मैं ऐसा करूँगा कि सभी मनुष्य मेरे समक्ष आएंगे और देखेंगे कि बिजली पूरब से चमकती है और मैं भी पूरब में 'जैतून के पर्वत' पर अवतरित हो चुका हूँ। वे देखेंगे कि मैं बहुत पहले से पृथ्वी पर मौजूद हूँ, यहूदियों के पुत्र के रूप में नहीं, बल्कि पूरब की बिजली के रूप में। क्योंकि बहुत पहले मेरा पुनरुत्थान हो चुका है, और मैं मनुष्यों के बीच से जा चुका हूँ, और फिर अपनी महिमा के साथ लोगों के बीच पुनः प्रकट हुआ हूँ। मैं वही हूँ जिसकी आराधना असंख्य युगों पहले की गई थी, और मैं वह शिशु भी हूँ जिसे असंख्य युगों पहले इस्राएलियों ने त्याग दिया था। इसके अलावा, मैं वर्तमान युग का संपूर्ण-महिमामय सर्वशक्तिमान परमेश्वर हूँ! सभी लोग मेरे सिंहासन के सामने आएँ और मेरे महिमामयी मुखमंडल को देखें, मेरी वाणी सुनें और मेरे कर्मों को देखें। यही मेरी संपूर्ण इच्छा है; यही मेरी योजना का अंत और उसका चरमोत्कर्ष है, यही मेरे प्रबंधन का उद्देश्य भी है। सभी राष्ट्र मेरी आराधना करें, हर ज़बान मुझे स्वीकार करे, हर मनुष्य मुझमें आस्था रखे और सभी लोग मेरी अधीनता स्वीकार करें!"

"दिन समाप्त हो जाएंगे; दुनिया की सभी चीज़ों का कोई मूल्य नहीं रहेगा, और सब कुछ नया बनकर उत्पन्न होगा। यह याद रखना! भूलना नहीं! इस बात में कोई संदिग्‍धता नहीं हो सकती है! आकाश और पृथ्वी गायब हो जाएँगे, परन्तु मेरे वचन रहेंगे! एक बार फिर तुम लोगों को प्रेरित करता हूँ: व्यर्थ में भागो मत! जागो! पश्चाताप करो और उद्धार हाथ में होगा! मैं पहले ही तुम लोगों के बीच प्रकट हो चुका हूँ और मेरी वाणी उदय हो चुकी है। मेरी वाणी तुम लोगों के सामने उदय हो चुकी है, हर दिन वह तुम लोगों के सामने रूबरू होती है, हर दिन वह ताज़ी और नई होती है। तुम मुझे देखते हो और मैं तुम्हें देखता हूँ; मैं तुमसे निरंतर बात करता हूँ और तुम्हारे साथ आमने-सामने होता हूँ। फिर भी तुम मुझे अस्वीकार करते हो, तुम मुझे नहीं जानते हो; मेरी भेड़ें मेरे वचन सुनती हैं और फिर भी तुम लोग संकोच करते हो! तुम संकोच करते हो! तुम्हारा मन मोटा हो गया है, तुम्हारी आंखों को शैतान ने अंधा कर दिया है और तुम मेरे गौरवशाली मुख को देख नहीं पाते हो—तुम कितने दयनीय हो! कितने दयनीय!"

"मेरे सिंहासन के सामने उपस्थित सात आत्माओं को पृथ्वी के सभी कोनों में भेजा गया है और मैं कलीसियाओं से बात करने के लिए अपने संदेशवाहक भेजूंगा। मैं धार्मिक और विश्वासयोग्य हूँ; मैं वह परमेश्वर हूँ जो मनुष्यों के दिल की गहराइयों की जांच करता है। पवित्र आत्मा कलीसियाओं से बात करता है और ये मेरे वचन हैं जो मेरे पुत्र के भीतर से निकलते हैं; जिनके कान हैं उन्हें सुनना चाहिए! जो जीवित हैं उन्हें स्वीकार करना चाहिए! बस उन्हें खाओ और पिओ, और संदेह न करो। जो लोग मुझे समर्पित करेंगे और मेरे वचनों पर ध्यान देंगे, उन्हें महान आशीष प्राप्त होंगे! जो लोग ईमानदारी से मेरे मुख की खोज करेंगे, उनके पास निश्चित रूप से नई रोशनी, नई प्रबुद्धता और नई अंतर्दृष्टि होगी; सब कुछ ताज़ा और नया होगा। मेरे वचन तुम्हारे लिए किसी भी समय प्रकट होंगे और वे तुम्हारी आत्मा की आंखें खोल देंगे ताकि तुम आध्यात्मिक क्षेत्र के सभी रहस्यों को देख सको और देख सको कि राज्य मनुष्य के बीच है। शरण में प्रवेश करो और सभी अनुग्रह और आशीष तुम्हें प्राप्त होंगे, अकाल और महामारी तुम्हें छू नहीं सकेंगी, और भेड़िए, साँप, बाघ और तेंदुए तुम्हें नुकसान पहुंचाने में असमर्थ रहेंगे। तुम मेरे साथ जाओगे, मेरे साथ चलोगे और मेरे साथ महिमा में प्रवेश करोगे!"

भाइयों और बहनों, प्रभु द्वार खटखटा रहे हैं; क्या आपने परमेश्वर की आवाज़ को पहचाना है?

उत्तर यहाँ दें